gwalior info

ग्वालियर। करवाचौथ 8 अक्टूबर को है और करवाचौथ के व्रत की तैयारियां महिलाएं करने में लगी हैं। महिलाएं करवाचौथ का व्रत अपने पति की सलामती के लिए रखती हैं। इसलिए वे बाजार में सुहाग से संबंधित सामग्री की खरीद भी कर रही हैं। बाजार में चूड़ी से लेकर साड़ी वालों के यहां शुक्रवार को काफी भीड़ देखी गई।


ये सब कुछ पत्निया ही क्यों करती है पति क्यों नहीं करते ! आज हम आपको बताते है की पति और पत्नी के बीच जो सम्बंद होते है बो एक नाजुक सम्बंद होता  है अगर पति और पत्नी के बीच में गलतफेमि  हो बहा पर हमेशा पति और पत्नी के बीच में लड़ाईया होगी एक दिन ऐसा आएगा की बो हमेशा के लिए अलग हो जायेगे और एक पति को अपनी पत्नी पर विश्वास होना चाइये और एक पत्नी को अपने पति पर विश्वास होना चाइये तभी उनका जीवन अच्छा होगा




और हमारा मान न है की एक पत्नी सुबह से लेकर साम तक भूकी रहती है तो एक पति को अपनी पत्नी के लिए भूका रहना चाइये है और अपनी पत्नी को हमेशा प्यार से रखना चाइये क्योकि बो अपने माँ बाप का घर छोड़ के अपने पति के भरोसे आती है और उसका पति उसका सात नहीं दे तो एक पत्नी के दिल पर क्या बीतती है क्योकि पत्नी  अपना मान सम्मान  अपने पति परमेशर के हाँथ में सोंप देती है और यह आशा करती है और मेरी भावनाओं को समझेगा और सम्मान देगा !
एक पत्नी को अपने पति का घर उस तरह से समझना चाइये की जैसे अपने घर को समझती है अगर पत्नी अपने पति के लम्बी उमर के लिए कामना करती है मगर कुछ पति- पत्नी के रिश्ते अच्छे हो जाते है और कुछ पति – पत्नी के रिश्ते खराब हो जाते है उनकी नासमझी की बजह से और उनकी जिद  की बजह से ख़तम हो जाते है

और हम तो ये कामना करते है कल 8 अक्टूबर करवा चौथ से सभी पति पत्निया के रिश्ते अच्छे हो जाये और खुश रहे !

सभी को हमारी तरफ से  करवा चौथ की हार्दिक शुभकामनाएं !

आपकी की करवा चौथ पर  क्या राये है आप जरुर बताये और कमेंट जरूर करे |

LEAVE A REPLY